जाने कब से खुलेंगे स्कूल और किन नियमों का करना होगा पालन, सरकार ने जारी किये दिशा निर्देश

कब से खुलेंगे स्कूल

कब से खुलेंगे स्कूल

 

नई दिल्ली: हेल्थ मिनिस्ट्री ने 21 सितंबर से स्कूल खोलने को लेकर दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। 25 मार्च से लगे लॉकडाउन के बाद से देश भर के स्कूलों को बंद कर दिया गया था। जिस वजह से बच्चों की पढ़ाई ४ को लेकर अविभावकों में चिंता बानी हुई है। लेकिन अन लॉकडाउन 4 में सरकार ने 9वीं से 12वीं कक्षा के विधार्थियों के लिए आंशिक रूप स्कूल खोलने की अनुमति दे दी।

 

खुलेंगे स्कूल लेकिन करना होगा इन नियमों का पालन

 

शैक्षणिक वर्ष 2020 में स्कूल खुलेंगे या नहीं इस पर से संशय अब हट चूका है। सरकार ने आंशिक रूप से स्कूल खोलने को लेकर अनुमति दे दी है यहां आपको बता दें की आंशिक से मतलब है स्वैच्छिक, यानी जो विद्यार्थी स्कूल जाना चाहते हैं, वे अध्यापकों से पढाई को लेकर जानकारी लेने के लिए अपने माता-पिता की लिखित सहमति के साथ स्कूल जा सकते हैं। लेकिन विद्यार्थी या माता पिता स्कूल जाने या भेजने लेकर बाध्य नहीं है।

इस ख़बर को भी पढ़ें: अमेरिका में स्कूल और कॉलेज फिर से हुए बंद

इस सन्दर्भ में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (SOP) जारी की है। यदि विधार्थी स्कूल जाना चाहते हैं तो अविभावकों को इन नियमों का पालन करना होगा।

 

  • छात्रों को कम से कम छह फ़ुट की दूरी बनाते हुए चेहरे पर मास्क लगाए रखना अनिवार्य है।
  • थोड़ी थोड़ी देर में हाथ धोना और सैनिटाइज़ करना होगा
  • सार्वजनिक स्थानों पर थूकना पूरी तरह से प्रतिबाधित कर दिया गया है। .
  • यदि किसी छात्र की तबीयत ठीक न हो या अचानक ख़राब हो जाये तो तुरंत स्कूल प्रशासन को सूचित करे।
  • आरोग्य सेतु एप का इस्तेमाल करना अनिवार्य है।
  • कंटेनमेंट ज़ोन के स्कूलों को खोलने की अनुमति नहीं है।
  • स्कूल प्रशासन को हिदायत दी गई है की स्कूल बिल्डिंग को सैनिटाइज़ किया जाए उसके बाद स्कूल खोलें।
  • क्वारंटीन सेंटर बने हुए स्कूलों को ख़ास तौर पर सैनिटाइज़ किया जाए।
  • लेकिन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने ऑनलाइन पढाई को लेकर कहा है कि ऑनलाइन अभी जारी रहेगी और सरकार ऑनलाइन पढाई को बढ़ावा देने के लिए कई बड़े कदम उठाने जा रही है। आंशिक रूप से स्कूल खोले जाने को लेकर सरकार ने 50 फ़ीसदी स्टाफ़ को स्कूल बुलाने की अनुमति दी है।
  • स्कूलों में एक्स्ट्रा करिकुलम एक्टिविटीज़ पूरी तरह से बंद रहेंगी।
  • थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही स्कूल स्टाफ और विद्यार्थियों स्कूल में प्रवेश करने की अनुमति होगी यदि किसी में संक्रमण के लक्षण पाए जाते हैं तो उसे बाहर कर, हेल्थ सेंटर भेज दिया जायेगा।
  • विद्यार्थियों को अलग-अलग समय पर स्कूल बुलाया जा सकता है ताकि भीड़ से बचा जा सके।
  • विद्यार्थियों को आपस में किसी भी तरह की कोई भी वस्तु शेयर करने की अनुमति नहीं हैं।
  • स्कूल बसों में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों के साथ साथ सनेटाइज़ किया जायेगा।

 

ताज़ातरीन खबरों के लिए क्लिक करें Watchheadline पर

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here