तनिष्क के समर्थन में एड एसोसिएशन ने की कार्रवाई की मांग की

तनिष्क

तनिष्क ने कहा कि अपने कर्मचारियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लिया विज्ञापन वापसी का फैसला

 

नई दिल्ली: तनिष्क (Tanishq) के विज्ञापन को लेकर एड एसोसिएशन ने कहा है कि यह विज्ञापन किसी व्यक्ति विशेष, धर्म या संप्रदाय की भावनाओं को ठेस नहीं पहुंचाता। देश के शीर्ष विज्ञापन संगठनों ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से इस बात की पुष्टि की।

आपको बता दें की पिछले दिनों तनिष्क (Tanishq) ने एक नया विज्ञापन जारी किया था जिसमें एक अलग धर्म के साथ गोद भराई की रस्म को दर्शाया गया है सारा मामला हिन्दू मुस्लिम नज़रिये से देखा जा रहा है। जिसके चलते कुछ दलों ने इसका जमकर विरोध भी किया। इस विरोध को देखते हुए तनिष्क को अपना यह विज्ञापन वापस लेना पड़ा। एड एसोसिएशन “द् एडवर्टाइजिंग क्लब (The Advertising Club)” ने तनिष्क के साथ एकजुटता दिखाते हुए ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, “हमारी एक्सपर्ट टीम ने विज्ञापन का पूरा रिव्यूय किया है जिसके बाद हम आधिकारिक तौर पर यह कह सकते हैं कि इस विज्ञापन में ऐसा कुछ भी नहीं है जिससे किसी व्यक्ति विशेष या धर्म कि भावनाओं को ठेस पहुंचे, एसोसिएशन ने इसे रचनात्मक अभिव्यक्ति पर इस तरह के निराधार और अप्रासंगिक हमले का विरोध किया और कहा कि हम तनिष्क और उसकी टीम के साथ हैं”

 

इस ख़बर को भी पढ़ें: 34 बॉलीवुड फ़िल्म प्रोडक्शन हाउसेस का न्यूज़ चैनलों के खिलाफ़ हल्ला बोल, दो चैनलों पर मामला दर्ज

इसी मामले पर एक दूसरी इंटरनेशनल एसोसिएशन आईएए (IAA) के भारतीय टीम ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से लिखा, “हम संबंधित सरकारों से इस तरह के डराने व धमकाने वाले व्यवहार पर गंभीरता से विचार करने और कार्रवाई करने की अपील करते हैं”

 

 

आख़िर तनिष्क का यह मामला है क्या?

पिछले सप्ताह तनिष्क (Tanishq) ने एक विज्ञापन जारी किया था जिसे सोशल मीडिया पर एक वर्ग ने महसूस किया कि यह विज्ञापन “लव जिहाद को बढ़ावा” देता है। जिसके बाद भारत के अलग अलग राज्यों से तनिष्क के शो रूम पर काम कर रहे कर्मचारियों को डराने व धमकाने के कई मामले सामने आने लगे। जिसके बाद तनिष्क ने यह कह कर कि व अपने कर्मचारियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अपना यह विज्ञापन वापिस ले रही है। फिलहाल अभी इसका प्रसारण पूरी तरह से बंद कर दिया है।

 

ताज़ातरीन ख़बरों के लिए क्लिक करें Watchheadline पर

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here