WHO ने कहा दुनिया में हर 10 में से 1 को हो सकता है कोरोना

who
WHO Logo

WHO की एक विशेष बैठक में संगठन ने कहा है कि, ‘दुनिया में हर 10 में से 1 व्यक्ति को हो सकता है कोरोना संक्रमण

 

नई दिल्ली: यदि WHO की माने तो 10:1 के अनुपात से कोरोना वायरस का संक्रमण फैल सकता है। एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक़ इस “दुनिया की आबादी का एक बहुत बड़ा हिस्सा कोरोना वायरस से संक्रमित हो सकता है।” हालांकि WHO का कहना है कि यह संक्रमण का आंकड़ा लगभग 80 करोड़ तक जा सकता है। अब तक 3.5 करोड़ लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं।

इस ख़बर को भी पढ़ें : corona दुनियाभर में 1 करोड़ से ज़्यादा लोग से हुए

एक विशेष तबके का मानना है कि दर्ज किए गए आंकड़ें से कहीं अधिक हो सकती है संक्रमण की संख्या। WHO की यह विशेष बैठक जेनिवा स्थित मुख्यालय में हुई थी। जिसमें महामारी से निपटने के लिए दुनिया भर के देशों ने चर्चा की, पिछले दस महीनों में कोरोना वायरस के संक्रमण पर काबू नहीं पाया जा सका है और भी दूर तक ऐसी कोई उम्मीद दिखाई नहीं पड़ती।

दुनिया भर में शुरू हुए अनलॉक डाउन की वजह से कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। WHO के हेल्थ इमरजेंसी प्रोग्राम (Health Emergency Programme) के कार्यकारी निदेशक माइक रयान ने बताया है की एक अनुमान के मुताबिक़ दुनिया की 10 फीसदी आबादी कोरोना वायरस की चपेट में आ चुकी है। उन्होंने यह भी कहा है कि, “दुनिया की आबादी का एक बहुत बड़ा हिस्सा ख़तरे में आ चूका है। हम यह भी अच्छी तरह से जानते हैं कि महामारी और उसका असर लम्बे सयम तक बना रहेगा। लेकिन संक्रमण को रोकना और ज़िंदगियों को बचाना हमारी प्राथमिकता है।”

WHO के डायरेक्टर जनरल टेड्रॉस एडहॉनम गीब्रियेसुस ने कहा है कि, “दुनिया भर देशों पर वायरस का असर अलग-अलग रहा है और उनका अनुभव भी इसलिए इस महामारी से निपटने के लिए सभी को एक जुट होकर साथ में आगे आना चाहिए। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी कि रिपोर्ट के मुताबिक़ कोरोना वायरस से अब तक 10 लाख से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और जिन तीन देशों में इसका सबसे ज़्यादा असर देखने को मिला है वे हैं अमरीका, भारत और ब्राज़ील।

 

ताज़ातरीन ख़बरों के लिए क्लिक करें Watchheadline पर

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here